अंतर्राष्ट्रीय

भीम बढ़ाएगा दोस्ती !

दिल्ली, 13 जुलाई । वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को कहा कि भूटान में भीम-यूपीआई क्यूआर आधारित भुगतान व्यवस्था शुरू होने से दोनों पड़ोसी देशों के बीच सहयोग और मजबूत होंगे।वित्त मंत्री ने डिजिटल तरीके से सेवा की औचारिक शुरूआत की। इस मौके पर वित्त राज्यमंत्री भागवत के कराड, वित्तीय सेवा सचिव देबाशीष पांडा और संयुक्त सचिव मदनेश कुमार मिश्रा उपस्थित थे।भूटान के वित्त मंत्री ल्योंपो नामगे शेरिंग, भूटान के रॉयल मॉनेटरी अथॉरिटी (आरएमए) के गवर्नर दाशो पेन्जोर, भारत में भूटान के राजदूत जनरल वी नामग्याल और भूटान में भारत की राजूदत रूचिरा कम्बोज भी इस मौके पर उपस्थित थी।सीतारमण ने आरएमए और भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) के भीम-यूपीआई ऐप और रूपे कार्ड को भूटान की भुगतान प्रणाली से जोड़े जाने के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा, ”… यह दोनों देशों के बीच सहयोग को और मजबूत करने वाला है।”इस पहल से हर साल भारत से भूटान जाने वाले 2,00,000 से अधिक सैलानियों को लाभ होगा।इसके साथ, भूटान यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) मानकों को अपनाने वाला पहला देश हो गया है। साथ ही भूटान एकमात्र देश है जो रूपे कार्ड जारी करेगा और स्वीकार करेगा। साथ ही भीम-यूपीआई स्वीकार करेगा।उल्लेखनीय है कि भारत ने देश में विकसित रूपे कार्ड 2019 में भूटान में शुरू किया था और दूसरे चरण की शुरूआत नवंबर 2020 में हुई।

loading...

Related Articles