उत्तर प्रदेश : बेरोजगारी, महंगाई, कोरोना, भ्रष्टाचार व किसानों सहित कई मुद्दों को लेकर सपा का भाजपा सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन

इस दौरान कई जगह समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) कार्यकर्ताओं की पुलिस से जोरदार झड़प भी हो गई. लखनऊ में 20 से ज्यादा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया, जबकि दो दर्जन से ज्यादा नेताओं को नजरबन्द कर दिया गया.


बाराबंकी में सपाइयों ने अर्धनग्न होकर छाया चौराहे पर प्रदर्शन किया।

बाराबंकी में सपाइयों ने अर्धनग्न होकर छाया चौराहे पर प्रदर्शन किया।

लखनऊ. बेरोजगारी, महंगाई, कोरोनाम कानून-व्यवस्था व किसानों से जुड़े मुद्दे को लेकर सोमवार को समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) ने प्रदेशव्यापी प्रदर्शन (Protest) शुरू किया, तहसील स्तर से लेकर जिला मुख्यालय तक सपा सांसद, विधायक, पूर्व सांसद, पूर्व विधायक, जिलाध्यक्ष समेत तमाम कार्यकर्ता सड़कों पर उतरे. इस दौरान कई जगह समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं की पुलिस से जोरदार झड़प भी हो गई. लखनऊ में 20 से ज्यादा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया, जबकि दो दर्जन से ज्यादा नेताओं को नजरबन्द कर दिया गया.

सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ी

गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के आह्वान पर आज सुबह 11 बजे से तहसील स्तर पर ज्ञापन सौंपने और धरना-प्रदर्शन करने पहुंचे. इस दौरान कई जिलों से प्रदर्शन व पुलिस के साथ झड़प की तस्वीरें देखने को मिली. रायबरेली में किसान अध्यादेश के विरोध में सपाई कलेक्ट्रेट पहुंचे और सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंपा. इस दौरान सरकार के विरोध में जमकर नारे लगाए. इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ी.

कानपुर में पुलिस से भीडे कार्यकर्ता

उधर कानपुर में भी सैकड़ों की संख्या में सपा कार्यकर्ता कलेक्ट्रेट की कूच कर गए. हालांकि पुलिस पहले से ही मौजूद थी. इस दौरान पुलिस और सपा कार्यकर्ताओं में झड़प देखने को मिली. सपाई बैरिकेडिंग तोड़ते नजर आए. गोंडा जिले में भी सपा का प्रदर्शन देखने को मिला. सपा कार्यकर्ताओं ने ताली और थाली बजाकर प्रदर्शन किया. प्रदेश सरकार की नीतियों के विरोध।में शहर के इनकैन चौराहे पर जमकर नारेबाजी की गई.

सीतापुर में हुई धक्का-मुक्की

सीतापुर जिले में भी समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता सड़क पर उतरे. कानून व्यवस्था, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, महंगाई और किसानों के मुद्दे पर सपा कार्यकर्ताओं ने जोरदार प्रदर्शन किया. इस बीच कार्यकर्ताओ ने पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियो के साथ धक्का-मुक्की भी की. प्रदर्शन को लेकर भारी संख्या में पुलिस बल को कलेक्ट्रेट के आसपास तैनात किया गया है.

हैदरगढ़ तहसील में सपा के वरिष्ठ नेताओं ने सौंपा ज्ञापन

हैदरगढ़ सोमवार सुबह 10 बजे प्रात: से लेकर दोपहर तक छावनी बना रहा। पुलिस व प्रशासन अधिकारी फोर्स के साथ तैनात रहे। सपा के कार्यकर्ताओं और वरिष्ठ नेताओं ने तहसील के एसडीएम को ज्ञापन सौंपा।

समाजवादी पार्टी के प्रदर्शन में सपा के पूर्व विधायक राम मगन रावत, एमएलसी राजेश कुमार यादव, ब्लॉक प्रमुख दिनेश प्रताप सिंह , हाफ़िज़ सिद्दकी, आदि मौजूद थे

Show More

Related Articles