कानपुर एनकाउंटर की चार्जशीट तैयार, विकाश दुबे समेत 42 लोगो के नाम

कानपुर के पास बिकरू गांव में 2-3 जुलाई की रात हुई आठ पुलिसकर्मियों की हत्या मामले की चार्जशीट लगभग तैयार हो चुकी है। पुलिस आरोप पत्र दाखिल करने से पहले विधिक मंथन कर रही है। इसे अगले हफ्ते तक कोर्ट में दाखिल किया जा सकता है। विवेचक ने घटना में 42 लोगों को आरोपी ठहराया है।

चौबेपुर के बिकरू गांव में दो जुलाई की रात दबिश देने गई पुलिस टीम पर कुख्यात अपराधी विकास गैंग अपनी टीम के साथ ने हमला बोला था। इसमें सीओ समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद हुए थे। पुलिस ने चौबेपुर थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। नामजद आरोपियों में विकास समेत छह लोग मुठभेड़ में मारे जा चुके हैं। पुलिस ने विवेचना पूरी कर ली है और आरोप पत्र भी तैयार कर लिया है।

विकास का गैंग और बड़ा हुआ
पुलिस ने चौबेपुर थाने में पंजीकृत विकास की गैंग में कुछ नए चेहरों को शामिल किया है। तत्कालीन एसएसपी अखिलेश मीणा ने विकास और उसके एक दर्जन से ज्यादा लोगों को मिलाकर डी 124 गिरोह पंजीकृत कराया था। एसपी ग्रामीण के मुताबिक पहले से पंजीकृत गैंग का दोबारा रिव्यू किया गया है। इसमें बिकरू कांड के उन आरोपियों को भी शामिल किया गया है जिनके नाम पहले से गैंग में शामिल नहीं थे।

चार्जशीट अभी प्रक्रिया में है। कोर्ट में दाखिल करने से पहले उसकी समीक्षा होगी। चार्जशीट के रिव्यू में वरिष्ठ अधिवक्ताओं की मदद ली जाएगी। – एसपी ग्रामीण ब्रजेश श्रीवास्तव

Show More

Related Articles