योगी आदित्यनाथ को धमकी देने वाला गिरफ्तार, कहा था-“मुख्तार को रिहा करो वरना मिटा दूंगा सरकार`


मैसेज भेजने वाले ने धमकी दी थी कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो शुक्रवार 25 सितंबर तक योगी सरकार मिटा दी जाएगी. हजरतगंज थाने में तैनात इंस्पेक्टर अंजनी कुमार पांडेय ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कराया था.


लखनऊ: बाहुबली और मऊ सदर विधायक मुख्तार अंसारी को जेल से आजाद न करने पर सीएम योगी आदित्यनाथ को जान से मारने की धमकी देने वाले आरोपी को हजरतगंज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी एटा का रहने वाला एक ट्रक ड्राइवर है, जिसने मुख्तार को जेल से न छोड़े जाने पर मुख्यमंत्रा योगी आदित्यनाथ के लिए धमकी भरे मेसेज डॉयल 112 टीम के पास भेजे थे.

क्या था मामला?
पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने शनिवार सुबह जानकारी दी कि 9696755113 नंबर से किसी अज्ञात बदमाश ने बुधवार को यूपी 112 सेवा के व्हॉट्सऐप नम्बर पर कई धमकी भरे मैसेज भेजे. इसमें मुख्यमंत्री के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते हुए बाहुबली मुख्तार अंसारी को 24 घंटे के अंदर जेल से आजाद करने की बात कही गई थी. मैसेज भेजने वाले ने धमकी दी थी कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो शुक्रवार 25 सितंबर तक योगी सरकार मिटा दी जाएगी. हजरतगंज थाने में तैनात इंस्पेक्टर अंजनी कुमार पांडेय ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कराया था.

योगी सरकार के निशाने पर बाहुबली और माफिया
आपको बता दें कि योगी सरकार ने राज्य में ”ऑपरेशन क्लीन” और ”ऑपरेशन नेस्तनाबूद” चला रखा है. इसके तहत पुलिस और प्रशासन प्रदेश के माफिया और बाहुबलियों पर नकेल कसने के लिए लगातार कार्रवाई कर रहे हैं. सरकार का मकसद यूपी में संगठित अपराध को पूरी तरह खत्म करना है. इस कड़ी में बाहुबली अतीक अहमद और माफिया मुख्तार अंसारी के अवैध साम्राज्य और इनके गैंग्स के खिलाफ कार्रवाई जारी है. अतीक की लगभग 300 करोड़ रुपए की संपत्ति प्रशासन जमींदोज कर चुका है. वहीं मुख्तार की भी 100 करोड़ की अवैध संपत्ति पर बुलडोजर चल चुका है.

Show More

Related Articles