फिटकरी के पानी से ठीक हो जाएगा कोरोना? जाने सच

घंटी दबाकर सब्सक्राइब करना ना भूले

कोरोना वायरस की दूसरी लहर (Covid Second wave) का कहर जैसे-जैसे देश में बढ़ता जा रहा है वैसे-वैसे हजारों लोग इसका देसी ट्रीटमेंट खोजने में लगे हुए हैं। चूंकि अस्पतालों के हाल से तो आप अच्छे से वाकिफ हैं, जहां पर न तो बेड्स हैं और न ही ऑक्सीजन। यही वजह है कि अब सरकार का आयुष मंत्रालय भी कई तरह के देसी नुस्खे को आजमाने की सलाह दे रहा है। इसी बीच सोशल मीडिया पर कोविड ट्रीटमेंट के कुछ टोटके भी खूब वायरल हो रहे हैं। इन दिनों ट्विटर पर एक वीडियो काफी शेयर की जा रही है जिसमें फिटकरी से कोरोना महामारी (corona pandemic) के इलाज का दावा किया जा रहा है।

वीडियो में एक साधु फिटकरी (Alum) के लाभ के बारे में जानकारी दे रहे हैं और कोरोना के इलाज के लिए सस्ता विकल्प बता रहे हैं। ये पोस्ट कई लोग अपने वाट्सअप, फेसबुक और ट्विटर पर एक दूसरे को शेयर कर रहे हैं। लेकिन क्या वाकई फिटकरी के जरिए कोरोना का इलाज संभव है। आइए जानते हैं इस दावे का सच।

वीडियो में एक जैन मुनि कह रहे हैं कि अगर आप स्वंय को और अपने परिवार को सुरक्षित रखना चाहते हैं तो बाजार से एक चीज लाना है। ये वो चीज है जिसे आप आसानी से खरीद सकते हैं, जो ज्यादा महंगी भी नहीं है। उसका नाम है फिटकरी (Alum), जिसका प्रयोग आप भोजन के बाद करेंगे तो कोविड से बच सकते हैं।

संत का दावा है कि भोजन के बाद आधा गिलास पानी में फिटकरी के टुकड़े को डाल लें और इस घोल को मुंह में सात-आठ बार घुमाएं, फिर कुल्ला कर दें। साधु का दावा कि फिटकरी के आगे दुनिया भर की तमाम बड़ी कंपनियों के टूथपेस्ट फेल हैं। साधु कह रहे हैं कि अगर फिटकरी का पानी आपके गले, दांत, मुंह आदि में अच्‍छी तरह से लग गया है तो आपको कोरोना वायरस संक्रमित नहीं करेगा।

इस दावे को लेकर जब सरकार की ओर से पीआइबी की फैक्ट चेक टीम ने जांच-पड़ताल की तो इसे फर्जी बताया। PIB ने ट्विटर पर लिखा, ‘एक वीडियो में दावा किया जा रहा है कि फिटकरी के पानी का सेवन करने से #Covid19 से बचा जा सकता है व इससे संक्रमित व्यक्ति भी स्वस्थ हो सकता है। यह दावा #फर्जी है। #कोरोनावायरस से संक्रमित होने पर सही इलाज के लिए विश्वसनीय डॉक्टर से सलाह जरूर लें।’ 

loading...

Related Articles